ब्रेकिंग न्यूज़ गोंडा
बेटी बचाओ बेटी पढाओ अभियान का देश व विदेश में डंका पीट रहे प्रधानमंत्री मोदीजी के विधायक ने अभियान का नारा बदल दिया है। उ.प्र. के गोंडा जनपद के भाजपा विधायक गौरा प्रभात वर्मा का सोशल मीडिया पर एक आॅडियो वायरल हो रहा है जिसमें उनके द्वारा ना सिर्फ अपने विधानसभा क्षेत्र के एक शराब व्यवसायी को फोन पर गाली दी गई बल्कि उसकी बेटी के साथ रेप की खुली धमकी दी। यही नहीं विधायक जी ने अपने क्षेत्र में अवैध शराब के धंधे में लगे अपने पार्टी कार्यकर्ताओं का बचाव करते हुए सरकार के आबकारी विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को भी देख लेने की धमकी दी। मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री बेटियों के लिए मंचों से कितनी सोच रखते हैं उसके विपरीत विधायक क्या सोचते हैं ये गम्भीर विषय है।
सबसे संस्कारी पार्टी कहे जानी वाली भारतीय जनता पार्टी के विधायक सत्ता के नशे में किस तरह नीचे गिर सकते हैं इसकी मिशाल आज गोण्डा के गौरा विधानसभा क्षेत्र के बीजेपी विधायक प्रभात वर्मा ने पेश किया। सत्ता के नशे में चूर बीजेपी विधायक प्रभात वर्मा ने शराब व्यापारी को इतनी भद्दी भद्दी गालियां दी जिसे सुना नहीं जा सकता है। जिसका ऑडियो वायरल हुआ है। फोन पर बीजेपी विधायक प्रभात वर्मा ने शराब व्यापारी की बेटी का रेप करने की धमकी भी दी। विधायक ने पार्टी तो बदली लेकिन अपना चरित्र नहीं बदला…बसपा में रहते हुए प्रभात वर्मा अवैध शराब की तस्करी, पेड़ों की कटान व भूमि कब्जे जैसे गैरकानूनी कार्य मे सम्मिलत थे। वही कार्य अब बीजेपी में आकर भी कर रहे हैं।
मामला गौरा विधानसभा क्षेत्र से विधायक प्रभात वर्मा का है जिनका एक ऑडियो वायरल हुआ है जिसमें वे गाली गलौज करते हुए सुनाई पड़ रहे हैं इस ऑडियो से ऐसा लग रहा है कि विधायक जी का काम केवल अवैध शराब व्यवसायियों को बचाने तक ही सीमित रह गया है। हम बात कर रहे हैं गोंडा जनपद के विधान सभा गौरा के विधायक प्रभात वर्मा की लाइसेंसी शराब व्यवसाई और आबकारी विभाग द्वारा चलाए गए संयुक्त ऑपरेशन में पकड़े गए अवैध शराब कारोबारियों को छुड़ाने के लिए विधायक जी ने लाइसेंसी शराब व्यवसाई सहित आबकारी विभाग को भद्दी भद्दी गालियों से नवाज दिया
विधायक जी इस दौरान संविधान की ली गई शपथ और पद की मर्यादा को भी भूल गए विधायक जी ने ना केवल लाइसेंसी शराब व्यवसाई को जमकर गालियां दी बल्कि आबकारी विभाग के अधिकारी पर अवैध शराब व्यवसाई को भाजपा कार्यकर्ता बताते हुए उसे तुरंत छोड़ने का दबाव भी डाला जिसके बाद आबकारी निरीक्षक ने उस अवैध शराब व्यवसाई को जमानत पर चौराहे से छोड़ दिया।
फोन पर दिए गए गाली गलौज का ऑडियो भी वायरल हो गया है जिससे भाजपा के स्थानीय नेताओं में खलबली है वही इस पूरे मामले पर जिला आबकारी अधिकारी का कहना है कि विधायक जी का फोन आया था अवैध शराब व्यवसाई को छोड़ने के लिए उन्होंने सिफारिश की थी और दबाव बना रहे थे जिससे उसको वहीं से जमानत पर छोड़ देना पड़ा है वहीं आबकारी अधिकारी का कहना है कि ऐसे में जब सत्ता दल के ही लोग ऐसी सिफारिश करेंगे तो हमारे लिए काम करना मुश्किल हो जाएगा।
इस मामले में पीडि़त ने प्रभात वर्मा के खिलाफ एसपी आॅफिस में शिकायत दर्ज़ कराई है। पीडित में शिकायत कर्ता ने विधायक पर उसकी बेटी से रेप करने की धमकी देने का भी आरोप लगाया है। अब देखना है कि बेटी बचाओ बेटी पढाओ का नारा देने वाली मोदी सरकार और योगी की पुलिस अपने विधायक
पर क्या एक्शन लेती है।
सत्यम मिश्रा की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here