विजय गोयल- कैंटीन तुड़वाकर ऑफिस बनवाने के मामले में फंसे

0
44
New Delhi: Minister of State (Independent Charge) for Youth Affairs and Vijay Goel addressing a press conference in New Delhi on Wednesday. PTI Photo by Manvender Vashist(PTI5_3_2017_000047A)

नई दिल्ली के सरदार पटेल भवन के एक सरकारी स्टाफ कैंटीन को इसलिए तोड़ दिया गया ताकि वहां पर भाजपा नेता और सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन राज्य मंत्री विजय गोयल का ऑफिस बनाया जा सके। पिछले साल ही इस कैंटीन को मॉडर्न बनाने में 52 लाख रुपए का खर्च आया था। रिकॉर्ड के अनुसार सरकारी बिल में दिखाया गया है कि पांच स्टोरी बिल्डिंग में बने अकेले स्टाफ कैंटीन को गोयल के ऑफिस में बदलने के लिए 1.09 करोड़ रुपए का खर्च आया है। सितंबर 2017 तक विजय खेल एवं युवा मामलों के मंत्री थे। उन्हें पांच महीने पहले ही केंद्रिय मंत्री बनाया गया था।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार केन्द्रीय लोक निर्माण विभाग के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि अब तक गोयल दो बार इस ऑफिस का मुआयना कर चुके हैं। ज्यादातर काम मंत्री के निजी कर्मचारियों के परामर्श अनुसार किया गया है। मंत्री ने वास्तु के अनुसार कुछ और संशोधन बताए हैं। हालिया सुझाव पर अमल करने के लिए अभी और पैसा लगेगा जिसका हम जल्द ही आंकलन करके उन्हें भेज देंगे। इस मामले पर विजय गोयल का कहना है कि उन्हें नहीं पता था कि स्टाफ कैंटीन को ऑफिस में बदलने की लागत 1 करोड़ रुपए आएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here